December 8, 2022, 2:51 pm

New Tourism Policy in Uttar Pradesh: पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए यूपी में अब नई पॉलिसी, खाका हुआ तैयार

Written By: गली न्यूज

Published On: Friday August 26, 2022

New Tourism Policy in Uttar Pradesh: पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए यूपी में अब नई पॉलिसी, खाका हुआ तैयार

New Tourism Policy in Uttar Pradesh: उत्तर प्रदेश में योगी सरकार अब नई पर्यटन नीति 2023 लाने जा रही है। इस पर्यटन नीति का लगभग खाका भी खींच लिया गया। नई पर्यटन नीति में जहां लखनऊ के कबाब से लेकर आगरा के पेठे तक को प्रोत्साहित किया जाएगा। साथ ही पर्यटन क्षेत्र में काम करने वाले निजी संस्थानों को सब्सिडी देकर उत्तर प्रदेश के पर्यटन को गति दी जाएगी।

क्या है पॉलिसी ?

पर्यटन विभाग अगले 10 साल के लिए नई पर्यटन योजना (New Tourism Policy in Uttar Pradesh) बना रहा है। जिनमें ड्रोन शो और लाइट एंड साउंड शो जैसी चीजें शामिल होंगी. विशेष कार्यक्रमों में अयोध्या का दीपोत्सव, रामायण मेला, देव दीपावली, हॉट एयर बैलून फेस्टिवल, नवरात्रि महोत्सव, महाशिवरात्रि महोत्सव, विश्व पर्यटन दिवस, काशी विश्वनाथ धाम, बौद्ध सम्मेलन, रंगोत्सव, कुंभ मेला और कृष्णोत्सव शामिल होंगे. उपरोक्त सभी कार्यक्रम उत्तर प्रदेश की ब्रैंडिंग तो करेगा ही इस के साथ ही नई पर्यटन नीति के मसौदे के मुताबिक, ‘उत्तर प्रदेश भारत का शीर्ष टूरिज्म फ्रेंडली स्टेट है। जिसे दुनिया भर में मान्यता प्राप्त है. राज्य में प्रेम का प्रतीक ताजमहल स्थित है. इसे विशेष रूप से केंद्र में रखते हुए राज्य को वेडिंग डेस्टिनेशन के रूप में प्रमोट करना नई पर्यटन नीति का प्रमुख हिस्सा है. राज्य सरकार भारतीय और अंतरराष्ट्रीय कार्यक्रमों में जाकर यूपी को शादी के गंतव्य के रूप में बढ़ावा देगी।

https://gulynews.com को मिली जानकारी के मुताबिक पर्यटन नीति के मसौदे में पर्यटकों को ग्रामीण क्षेत्रों की यात्रा करने और गांवों की दैनिक गतिविधियों का अनुभव करने के लिए प्रोत्साहित करना भी शामिल है, जो उन्हें क्षेत्र की परंपराओं और संस्कृति को आत्मसात करने का अवसर प्रदान करेगा. नीति में उल्लेख किया गया है, ‘ग्रामीण पर्यटन केंद्रों की पहचान की जाएगी. ये केंद्र आगरा, वाराणसी, लखनऊ, अयोध्या, प्रयागराज और चित्रकूट जैसे प्रमुख पर्यटन स्थलों के आसपास स्थित होंगे

राज्य की विविधता से पर्यटकों का परिचय कराने के लिए कारवां टूरिज्म को प्रोत्साहित किया जाएगा. वैश्विक ख्याति के हॉट एयर बैलून ऑपरेटरों को आमंत्रित किया जाएगा. वाराणसी और दुधवा वन्यजीव अभयारण्य जैसे गंतव्यों में गर्म हवा के गुब्बारे की सवारी जैसी गतिविधियों को स्थापित करने में उनसे सहायता ली जाएगी. यूपी को देश का एक प्रमुख हॉट एयर बैलून डेस्टिनेशन बनाने की दिशा में काम किया जाएगा

Leave a Reply

Your email address will not be published.