February 1, 2023, 9:54 pm

Noida top news: नोएडा की सोसायटियों में रोजाना लिफ्ट में फंसने की होती है घटनाएं, जिम्मेदार नहीं उठा रहें जिम्मेदारी

Written By: गली न्यूज

Published On: Thursday December 15, 2022

Noida top news: नोएडा की सोसायटियों में रोजाना लिफ्ट में फंसने की होती है घटनाएं, जिम्मेदार नहीं उठा रहें जिम्मेदारी

Noida top news: ग्रुप हाउसिंग सोसायटी में रोजाना किसी न किसी जगह लिफ्ट अटकने (lifts stuck) की घटना हो रही है. इसके बाद भी जिम्मेदार लोग इस ओर ध्यान नहीं दे रहे है, 15 से 20 मंजिल की सोसायटी में लिफ्ट का ठीक से मेंटेनेंस ना होने की वजह से यहां आए दिन लिफ्ट के अटकने की घटनाएं सामने आ रही है. सोसायटी में रहने वाले लोगों को अब अपनी सुरक्षा का डर सताने लगा है. लोग पिछले काफी समय से लिफ्ट एक्ट बनाने की मांग कर रहे है.

ग्रेटर नोएडा और ग्रेटर नोएडा वेस्ट में 20 से 25 मंजिल तक की सोसायटी है. ऐसे में लोग घरों तक पहुंचने के लिए लिफ्ट का इस्तेमाल करते है. सोसायटी में लिफ्ट अटकने का घटनाएं रोजाना हो रही है, लेकिन इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहा है. लिफ्ट की देखरेख करने वाली कंपनी ठीक से मेंटेनेंस नहीं कर रही है. जिससे रोजाना दिक्कत हो रही है. लोग काफी परेशान है. लिफ्ट के मामले में हादसे का शिकार होने वाले लोग कानून ना होने की वजह से जिम्मेदारों के खिलाफ अपनी आवाज नहीं उठा पा रहे है.

गौतमबुध्द नगर विकास समिति की अध्यक्ष रश्मि पांडेय ने बताया कि सोसायटी में बहुमंजिला इमारत बनाने के लिए प्राधिकरण अनुमति दे रहा है, लेकिन उसमें व्यवस्थाएं हैं कि नहीं ये देखने को कोई तैयार नहीं है.

ये भी पढ़ें-

Hamirpur fire: शादी समारोह में गैस लीकेज होने से लगी आग, 22 लोग झुलसे

लोगों का कहना है कि सोसायटी में लिफ्ट की समस्या एक खतरनाक रूप ले रही है. हर दिन कहीं ना कहां घटनाएं हो रही है, लेकिन शिकायत करने पर अधिकारी लिफ्ट एक्ट ना होने की बात कह देते है.

यहां हो चुकिं हैं घटनाएं-
  • पंचशील हाइनिश सोलायटी के दो टावर में तीन बाक लिफ्ट बंद हो चुकिं है. यहां बच्चे समेत महिलाएं लिफ्ट में फंसे रहें.
  • निराला एस्पायर सोसायटी में ट्यूशन पढ़कर घर लौट रहा आठ साल का बच्चा करीब 10 मिनट तक फंसा रहा था.
  • ग्रेटर नोएडा वेस्ट की गुलशन बेलिना सोसायटी में पांच से छह बच्चे लिफ्ट में 40 मिनट तक फंसे रहें.

Leave a Reply

Your email address will not be published.