February 6, 2023, 5:18 am

एयरटेल के साथ गूगल ने मिलाया हाथ, Jio की बढ़ेगी चुनौती !

Written By: गली न्यूज

Published On: Friday January 28, 2022

एयरटेल के साथ गूगल ने मिलाया हाथ, Jio की बढ़ेगी चुनौती !

दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी Google और भारत की टेलीकॉम कंपनी Airtel बहुत जल्दी एक ऐसे समझौते को अंजाम देने जे रही है जिससे ना केवल दोनों कंपनियों को बड़ा फायदा होगा बल्कि इससे अमेरिका और भारत दोनों देशों को भी बहुत फायदा पहुंचने वाला है। इस समझौते के तहत गूगल करीब एक अरब डॉलर की Investment भारत में करने जा रही है। यह राशि गूगल फॉर इंडिया डिजिटलाइजेशन फंड का हिस्सा होगी। खास बात यह है कि यह निवेश अगले 5 साल के दौरान अलग-अलग चरणों में किया जाएगा। इसमें इक्विटी निवेश के साथ संभव कमर्शियल समझौतों के लिए कॉर्पस भी शामिल होगी। निवेश में भारती एयरटेल में 700 मिलियन डॉलर का इक्विटी निवेश शामिल होगा, जो 734 रुपये की प्रति शेयर की कीमत पर होगा।
इसके अलावा 300 मिलियन डॉलर की राशि का इस्तेमाल कमर्शियल समझौतों को लागू करने में किया जाएगा, जिसमें एयरटेल की ऑफरिंग को बढ़ाने में निवेश शामिल होगा. इसमें ग्राहकों को कई तरह के डिवाइस उपलब्ध कराए जाएंगे. इसमें इनोवेटिव प्रोग्राम के साथ दूसरी ऑफरिंग भी शामिल होंगी, जिनका मकसद भारत के डिजिटल इकोसिस्टम में एक्सेस और डिजिटल इंक्लूजन को बढ़ाना होगा।
समझौते पर सुनील भारती एयरटेल ने क्या कहा?

भारती एयरटेल के चेयरमैन सुनील भारती मित्तल ने कहा कि एयरेटल और गूगल इनोवेटिव प्रोडक्ट्स के जरिए भारत के डिजिटल डिविडेंड की ग्रोथ करने की विजन साझा करते हैं. उन्होंने कहा कि अपने भविष्य के लिए तैयार नेटवर्क, डिजिटल प्लेटफॉर्म्स, आखिरी छोर पर डिस्ट्रीब्यूशन और पेमेंट इकोसिस्टम के साथ, वे गूगल के साथ भारत के डिजिटल इकोसिस्टम को आगे बढ़ाने के लिए करीबी से काम करेंगे.

आपको बता दें कि शेयर बाजार को दी गई सूचना में टेलिकॉम ऑपरेटर एयरटेल ने कहा था कि वह रिफॉर्म पैकेज के तहत विलंबित AGR बकाए और स्पेक्ट्रम चार्ज पर लगाने वाले इंट्रेस्ट को इक्विटी में कंवर्ट नहीं करेगी. कंपनी ने दूरसंचार विभाग (Telecom Department) को भी अपने फैसले के बारे में अवगत करा दिया है. एयरटेल ने कहा, ‘‘हम आपको सूचित करना चाहते हैं कि कंपनी ने दूरसंचार विभाग को पुष्टि की है कि वह लंबित स्पेक्ट्रम और एजीआर बकाया पर ब्याज को इक्विटी में बदलने के विकल्प का लाभ नहीं उठाएगी.’’

इससे पहले नवंबर के महीने में एयरटेल ने अपने अलग-अलग प्रीपेड प्लान्स के टैरिफ दरों में 20-25 फीसदी की बढ़ोतरी की थी. इसमें टैरिफ वॉयस प्लान, अनलिमिटेड वॉयस और डेटा टॉप अप भी शामिल हैं. एयरटेल ने शुरुआती वॉयस प्लान में लगभग 25 फीसदी की बढ़ोतरी की है, जबकि अनलिमिटेड वॉयस के ज्यादातर प्लान में लगभग 20 फीसदी की बढ़ोतरी की गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.