February 1, 2023, 8:50 pm

Noida crime news: यूपी STF और बदमाशों के बीच मुठभेड़, एक लाख का इनामी आरोपी मारा गया

Written By: गली न्यूज

Published On: Monday January 2, 2023

Noida crime news: यूपी STF और बदमाशों के बीच मुठभेड़, एक लाख का इनामी आरोपी  मारा गया

Noida crime news: नोएडा से एक बड़ी खबर सामने आई है. यहां ग्रेटर नोएडा वेस्ट में यूपी एसटीएफ (UP STF) और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई. इस मुठभेड़ में एक लाख रुपये का इनामी बदमाश मारा गया है. साल के पहले ही दिन नोएडा में पुलिस ने बदमाश को मार गिराया. एसटीएफ और गौतमबुद्ध नगर पुलिस (STF and Gautam Budh Nagar Police) ने यह कार्रवाई मिलकर की.

https://gulynews.com की जानकारी के अनुसार मुठभेड़ में मारे गए बदमाश की पहचान कपिल के रूप में हुई है, यह मेरठ के योगेश भदौड़ा गैंग का शार्प शूटर था. यह बागपत में पिछले दिनों हुए डबल मर्डर केस में वांटेड चल रहा था. कपिल के खिलाफ करीब 45 मुकदमे दर्ज हैं. इनमें हत्या, हत्या का प्रयास, लूट, डकैती और अपहरण जैसे संगीन मामले हैं.

बता दें कि, खेकड़ा (बागपत) थाना क्षेत्र के बसी गांव के जंगल में 1 फरवरी 2022 की सुबह दिनदहाड़े दादा-पोते की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई थी. वे दोनों खेत से गन्ना लदी ट्रैक्टर-ट्रॉली लेकर चीनी मिल जा रहे थे. इसी दौरान दोनों को करीब 15-15 गोलियां मारी गई थीं. बसी गांव के किसान सत सिंह (80 वर्ष) और उनका पोता मनदीप (20 वर्ष) उस दिन सुबह ट्रैक्टर-ट्रॉली लेकर खेत से गन्ना लेने गए थे. वहां से गन्ना लेकर लौटते समय गोशाला के पास उन पर गोलियां चलाई गई थीं. दोनों ट्रैक्टर से नीचे भी नहीं उतर सके. उनकी मौके पर ही मौत हो गई थी.

आरोपी कपिल पर एक लाख रुपये का इनाम घोषित

आरोपी कपिल मूल रूप से खेकड़ा क्षेत्र के गांव बसी का रहने वाला था. कपिल के पिता को दूसरे पक्ष ने मार दिया था.  पिता की हत्या का बदला लेने के लिए कपिल ने सत सिंह और उनके पोते मनदीप को मौत के घाट उतारा था. कपिल का राकेश और बिल्लू दुजाना से गहरा रिश्ता था. इन तीनों ने मिलकर गाजियाबाद के इंदिरापुरम इलाके में भी दोहरे हत्याकांड को अंजाम दिया था, उस मामले में गाजियाबाद पुलिस ने राकेश और बिल्लू दुजाना का 2 जून 2022 को वेव सिटी में एनकाउंटर किया था.

वहीं, राकेश और बिल्लू दुजाना पर पचास-पचास हजार रुपे का इनाम घोषित किया गया था. तभी से गाजियाबाद पुलिस भी कपिल की तलाश कर रही थी. करीब 11 महीनों से कपिल को बागपत पुलिस तलाश कर रही थी. कपिल की गिरफ्तारी पर एक लाख रुपये का इनाम घोषित किया गया था.

ये भी पढ़ें-

Noida crime news: सड़क के बीचों-बीच मिली महिला की लाश, हत्या या हादसा ?

बागपत के डीएम ने कपिल बागपत को गैंगस्टर घोषित कर दिया था. पिछले साल मार्च महीने में उसका घर पुलिस ने सील कर दिया था, कपिल के पिता कृपाल की कई साल  पहले हत्या कर दी गई थी. कृपाल की लाश नहीं मिली, इसके बाद कपिल मेरठ के योगेश भदौड़ा गैंग में शामिल हो गया था. उसने बागपत, गाजियाबाद के अलावा हरियाणा और दिल्ली में आपराधिक घटनाओं को अंजाम दिया. उस पर तीनों राज्यों में 45 मुकदमे दर्ज हैं. इनमें हत्या, लूट, डकैती और गैंगस्टर के मामले हैं. कपिल सितंबर 2021 में जमानत पर जेल से छूटा था. उसने गांव में 31 जनवरी 2022 को सतसिंह और उनके पोते मनदीप की जंगल में गोलियों से भूनकर हत्या कर दी थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.