December 9, 2022, 2:05 am

NCERT Fake Books Case: NCERT की नकली किताबें छापने वाली प्रिंटिंग प्रेस का भंडाफोड़

Written By: गली न्यूज

Published On: Monday November 7, 2022

NCERT Fake Books Case: NCERT की नकली किताबें छापने वाली प्रिंटिंग प्रेस का भंडाफोड़

NCERT Fake Books Case:  दिल्ली के बॉर्डर पर एनसीईआरटी (National Council of Educational Research and Training) की नकली किताबें छापने वाली प्रिंटिंग प्रेस का  खुलासा हुआ है. पहले प्रिंटिंग प्रेस और फिर उसके गोदाम पर छापेमारी की गई. बता दें कि, दोनों जगहों से करीब तीन करोड़ रुपए की कीमत की नकली किताबें मिली है. प्रिंटिंग प्रेस का मालिक फरार है.

जानकारी मिली थी कि दिल्ली और गाजियाबाद समेत आसपास के शहरों में तमाम दुकानदार एनसीईआरटी की नकली किताबें बेच रहे है. जिसके बाद लोनी-दिल्ली बॉर्डर पर स्थित मेलाराम फार्म हाउस परिसर में एक प्रिंटिंग प्रेस में छापा मारा गया. इस कार्रवाई में एनसीईआरटी की प्रोडक्शन टीम के अलावा दिल्ली और यूपी पुलिस शामिल रही.

पढ़ें: Gardenia Glory Society Case: नोएडा के इस सोसाइटी में बिल्डर के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन

इस दौरान पता चला कि इस प्रिंटिंग प्रेस में छपने वाली नकली किताबों की बाइंडिंग गाजियाबाद के लोनी इलाके में एक गोदाम में हो रही थी. गोदाम पर भी छापेमारी की कार्रवाई हुई. शुक्रवार रात टीम ने मौके पर पहुंच कर तीन करोड़ रुपए की किताबें, तीन प्रिंटिंग मशीन, बाइंडिंग मशीन बरामद किया.  प्रिंटिंग प्रेस मालिक फरार है.

https://gulynews.com/wp-admin/ की जानकारी के अनुसार एनसीईआरटी अपने विक्रेताओं को किताब बिक्री पर 20 प्रतिशत का कमीशन देती है. जबकि नकली किताब छापने वाले लोग दुकानदारों को यही कमीशन 50 प्रतिशत तक देते हैं. इसके अलावा एनसीईआरटी सालभर तक अपनी किताबों की डिमांड पूरा नहीं कर पाती.  जबकि नकली किताबों के धंधे से जुड़े लोग डिमांड से ज्यादा किताब छापकर बेचते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.