October 4, 2022, 2:43 am

हनी ट्रैप में ऐसे फंसा यह जवान.. देश के साथ की गद्दारी। अब गिरफ्त में आया.. सारा भेद खोला।

Written By: गली न्यूज

Published On: Saturday May 21, 2022

हनी ट्रैप में ऐसे फंसा यह जवान.. देश के साथ की गद्दारी। अब गिरफ्त में आया.. सारा भेद खोला।

Pakistani Spy Arrested: राजस्थान से बड़ी खबर सामने आई। यहां पुलिस को एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। CID इंटेलिजेंस ने अपनी ओर से कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के लिए जासूसी करने वाले एक आरोपी को गिरफ्तार किया है।

कौन है आरोपी ?

सेना के जोधपुर रेजिमेंट में यह आरोपी तैनात था और इस आरोपी का नाम प्रदीप कुमार है। साल पहले ही आरोपी प्रदीप कुमार सेना में भर्ती हुआ था। ट्रेनिंग के बाद प्रदीप कुमार को अति संवेदनशील जोधपुर रेजीमेंट में दायित्व मिला था। अब जो जानकारी सामने आई है उसके मुताबिक आरोपी प्रदीप कुमार पिछले कुछ समय से लगातार संवेदनशील जानकारियां पाकिस्तान में अपने आकाओं तक पहुंचा रहा था। लेकिन आखिरकार सीआईडी की नजरों से बच नहीं सका और आखिरकार पकड़ा गया।

यह भी पढ़ें:-

Honey trap MMS Video: पहले फंसाया.. फिर MMS बनाया, अब ब्लैकमेलिंग। दिल्ली का सरकारी अधिकारी बुरा फंसा।

हनी ट्रैप का शिकार बना

जो जानकारी सामने आई है उसके मुताबिक आरोपी प्रदीप कुमार हनी ट्रैप के जाल में फंसकर एक महिला एजेंट के संपर्क में था। इसी महिला के संपर्क में आकर वो संवेदनशील जानकारी महिला तक पहुंचा रहा था। यह भी पता चला है कि 6 महीने पहले ही आरोपी इस महिला के संपर्क में आया था और जरूरी जानकारी पहुंचा रहा था। जानकारी मिली है कि आरोपी प्रदीप का महिला के साथ 6 महीने पहले संपर्क में आया था। दोनों के बीच व्हाट्सएप चैट, वॉइस कॉल और वीडियो कॉल के जरिए 6 महीने से संपर्क में थै।

महिला ने क्या बताया ?

https://gulynews.com को मिली जानकारी के मुताबिक पाकिस्तान की एजेंट इस महिला ने अपना गलत नाम आरोपी को बताया था साथ ही पता ठिकाना भी गलत बताया था। पूछताछ में आरोपी प्रदीप ने बताया है कि इस महिला ने जानकारी दी थी कि वो बेंगलुरु के एमएनएस में काम करती है। उसने दिल्ली आकर मिलने और फिर शादी का झांसा देकर आर्मी से जुड़े गोपनीय दस्तावेज मांगे थे। आरोपी प्रदीप ज्यादातर समय व्हाट्सएप के जरिए गोपनीय दस्तावेज महिला को भेजता था।

मिली जानकारी के मुताबिक पाकिस्तान की यह महिला एजेंट प्रदीप के अलावा और भी कुछ सैन्य जवानों को हनी ट्रैप में फंसाने की कोशिश कर रही थी। अब जब इसक भंडाफोड़ हो चुका है तो इंटेलीजेंस की नजर इस पूरे मोडस ऑपरेंडी पर है। पता लगाया जा रहा है कि अभी और कितने लोग इस हनीट्रैप के शिकार बने हैं।

यह भी पढ़ें:-

इस सोसाइटी में लड़की को लड़के ने मारी थप्पड़, CCTV में दर्ज हुआ पूरा कांड, पुलिस का सख्त एक्शन

Leave a Reply

Your email address will not be published.