December 8, 2022, 3:13 pm

रिफंड लें या फ्लैट! कंफ्यूजन में हैं यहां के होम बायर्स, जानिए क्या है वजह

Written By: गली न्यूज

Published On: Wednesday July 6, 2022

रिफंड लें या फ्लैट! कंफ्यूजन में हैं यहां के होम बायर्स, जानिए क्या है वजह

Amprapali Noida flats buyers: नोएडा में आम्रपाली के होम बायर्स (Amprapali Noida flats buyers) के लिए जरूरी खबर है. जो बायर पैसे की कमी की वजह से बकाया नहीं दे पा रहे हैं और उन्हें फ्लैट के बदले रिफंड लेने का विकल्प भी दिया गया है. उनकी मुश्किलें इन दिनों पहले से ज्यादा बढ़ गई हैं. रिफंड या फ्लैट (refund or flat) दोनों में से किसी एक का चुनाव करने के विकल्प ने उन्हें परेशान कर दिया है. अगर रिफंड का विकल्प चुनते हैं तो कुल जमा का मात्र 80 प्रतिशत मिलेगा. उसमें भी 8-10 साल से जो बैंक का इंट्रेस्ट दे रहे हैं उसकी भरपाई भी जेब से जाएगी, तो रिफंड लेकर फायदा क्या है. वहीं, फ्लैट लेना है तो आर्थिक हालात इतने गड़बड़ाए हुए हैं कि फ्लैट लेने के लिए तुरंत पैसे का इंतजाम करना संभव नहीं है.

https://gulynews.com को मिली जानकारी मिली है उसके मुताबिक जो लोग फ्लैट के बदले रिफंड लेना चाहते हैं उन्हें 30 जून तक इसके लिए आवेदन करने का समय दिया गया था. 1800 लोगों ने रिफंड के लिए आवेदन किया है. वहीं, इन्हें फाइनल डिसिजन के लिए 15 जुलाई तक का समय और दे दिया गया है. इस बीच चाहें तो अपना फैसला बदल सकते हैं. बता दें कि दोनों ही विकल्प में शर्तें इतनी पेचीदा हैं कि घर खरीदार कंफ्यूज हैं.

यह भी पढ़ें:-

उर्फी जावेद ने टॉपलेस होकर पढ़ा अखबार! लोगों ने कहा- तुम्हें बड़े होने की जरूरत है

क्या है शर्त ?

यदि आप फ्लैट के बदले अपना जमा रिफंड लेना चाहते हैं तो जितना आपने जमा किया है उसका 80 प्रतिशत ही वापस मिलेगा.

यह पैसा भी तब मिलेगा जब फ्लैट बिकेगा.

इतने साल में आपने जो बैंक को ब्याज दिया है वह भी आपकी जेब से ही जाएगा.

पिछले 8-10 वर्षों में जो तकलीफ आपने झेली है उसका हिसाब भी आपके खाते में ही रहेगा.

यदि आप फ्लैट लेना चाहते हैं तो किसी भी तरह आपको बकाया पैसा जमा करना होगा, तभी आपको फ्लैट मिल सकता है. अब दिक्कत यह है कि कोरोना के दौरान या उससे पहले जिनकी नौकरी चली गई, काम धंधे चौपट हो गए या अब वह इस दुनिया में ही नहीं हैं ऐसे लोगों के परिवार पहले से ही परेशान हैं. वह पैसा दें तो आखिर कहां से दें.

यह भी पढ़ें:- सोयाबीन की कीमतों में भारी गिरावट की आशंका, 750 रुपये गिर सकता है भाव

सेक्टर- 74 में रहने वाले पूजा बताती हैं कि उनके पति ने आम्रपाली के क्रिस्टल होम्म प्रॉजेक्ट में फ्लैट बुक करवाया था इसके लिए करीब 15 लाख रुपये का लोन लिया था. उस समय बताया गया था कि दो-ढाई साल में घर मिल जाएगा. अब 9 साल हो चुके हैं. पति की मौत हो गई है. उनकी जॉब चली गई थी और बैंक की किश्त जमा नहीं हो पा रही थीं. मैंने रिफंड के लिए आवेदन किया है. 20 लाख में से चार लाख रुपये सीधे कट के मिलेगा. इतने वर्षों में जो बैंक को ब्याज दिया वह बट्टे खाते में गया. यह 15 लाख भी तब मिलेंगे जब फ्लैट बिकेगा.

सेक्टर-122 में किराये पर रहने वाले पुलकित शर्मा ने बताया कि ग्रेनो वेस्ट स्थित आम्रपाली के प्रॉजेक्ट में 9 साल पहले घर लिया था. तब सोचा था कि दो-तीन साल में अपना घर मिल जाएगा तो किराया देने से बच जाएंगे. 9 साल से किराया भी दे रहे हैं और बैंक की किश्त भी. कोरोना के दौरान काम धंधा चौपट हो गया. किश्त समय पर नहीं जा पाईं. अब मैं और बैंक लोन लेने की स्थिति में भी नहीं हैं. रिफंड लेने के लिए 29 जून को आवेदन तो कर दिया है. कई लाख रुपये यूं ही कट जाएंगे. समझ नहीं आ रहा क्या करूं. आखिर आम्रपाली के बायर्स को यहां घर लेने की इतनी बड़ी सजा क्योंकि मिली है. पूरा पैसा मिलना चाहिए.

यह भी पढ़ें:-

Miss India 2022: सिनी शेट्टी ने जीता मिस इंडिया का खिताब, ये है पहली रनर अप

Leave a Reply

Your email address will not be published.